Category: NEW

अजमेर के आना सागर की भराव क्षमता को कम करने की शुरुआत तो भाजपा के शासन में ही हुई थी। वासुदेव देवनानी और अनिता भदेल जब भाजपा सरकार में मंत्री थे, तब रीजनल कॉलेज के सामने पाथवे क्यों बनने दिया? तब सांसद भागीरथ चौधरी भी किशनगढ़ के विधायक थे।

अजमेर के भाजपा सांसद भागीरथ चौधरी, विधायक वासुदेव देवनानी, अनिता भदेल, मेयर बृजलता हाड़ा, डिप्टी मेयर नीरज जैन आदि ने जिला कलेक्टर प्रकाश राजपुरोहित को ज्ञापन देकर आनासागर के अंदर भराव क्षेत्र में बनने...

Print Friendly, PDF & Email

…पर लोकसभा के उपचुनाव में रघु शर्मा की जीत का श्रेय तो सचिन पायलट को ही जाता है। तब यदि पायलट उम्मीदवार ही नहीं बताते तो आज रघु शर्मा राजस्थान के चिकित्सा मंत्री भी नहीं होते।

18 जून को राजस्थान के चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा और विधानसभा में भाजपा के उपनेता राजेन्द्र सिंह राठौड़ के बीच सोशल मीडिया पर आरोप प्रत्यारोप का जो दौर चला, उसमें रघु शर्मा ने अपनी...

Print Friendly, PDF & Email

सोशल मीडिया पर ब्लॉग लिखने से पैसा नहीं, पर मान सम्मान मिल सकता है। ब्यावर के वरिष्ठ पत्रकार रमेश शर्मा को ब्लॉग लिखने की शुरुआत करने पर हार्दिक शुभकामनाएं।

18 जून को मेरे पास अजमेर के ब्यावर उपखंड के वरिष्ठ पत्रकार रमेश शर्मा का फोन आया। शर्मा ने कहा सर, आपका आशीर्वाद चाहिए। हालांकि आशीर्वाद के लिए कारण पूछने की कोई जरुरत नहीं...

Print Friendly, PDF & Email

जयपुर की निलंबित भाजपाई मेयर के पति राजाराम गुर्जर का मामला निपटने से पहले ही अलवर के भाजपा सांसद बालकनाथ के पीए की रिश्वतखोरी का मामला सामने आ गया। मंत्री टीकाराम जूली और भाजपा के पूर्व विधायक ज्ञानदेव आहूजा की सिफारिशें भी सामने आई। आखिर राजस्थान के मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में नर्सिंग कर्मियों की भर्ती गुजरात की कंपनी से क्यों करवाई जा रही है? राजस्थान में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) ने कमाल कर रखा है।

राजस्थान में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) ने 17 जून को एक ऐसे गिरोह को पकड़ा है जो अलवर के सरकारी अस्पताल और मेडिकल कॉलेज में नर्सिंग कर्मियों की भर्ती में रिश्वतखोरी का काम कर...

Print Friendly, PDF & Email

रिटायर्ड आईएएस जीएस संधु को अशोक गहलोत सरकार का सलाहकार नियुक्त करने का मतलब है, सचिन पायलट के जले पर नमक छिड़कना। सरकारी सुविधा के बगैर भी अनेक रिटायर आईएएस अब सलाहकार बनने को आतुर। एकल पट्टा प्रकरण का शानदार तोहफा मिला है संधू को।

राजस्थान में असंतुष्ट नेता सचिन पायलट और उनके समर्थक आरोप लगा रहे थे कि जिन कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने संघर्ष कर कांग्रेस का शासन स्थापित किया, उन्हें दरकिनार कर रिटायर्ड नौकरशाहों को राजनीतिक नियुक्तियां दी...

Print Friendly, PDF & Email

सचिन पायलट की प्रियंका, वेणुगोपाल और माकन से तो बात हो रही है, लेकिन राहुल गांधी और अशोक गहलोत से नहीं। अजय माकन की नसीहत के तुरंत बाद पायलट समर्थक विधायक वेद प्रकाश सोलंकी ने फिर गहलोत सरकार पर हमला बोला।

18 जून को राजस्थान में कांग्रेस के प्रभारी महासचिव अजय माकन ने दिल्ली में बताया कि पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट की कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी, संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल और स्वयं...

Print Friendly, PDF & Email

नशीली दवाओं के कारोबारी श्याम मूंदड़ा को 30 जून तक जेल भेजा। अभी दो और मुकदमों में गिरफ्तारी होगी। पुलिस का फोकस अब कमलजीत मौर्य को पकडऩे पर है।

अजमेर में नशीली दवाओं के प्रमुख कारोबारी श्याम मूंदड़ा और उसके सहयोगी शेख साजिद को 17 जून को आगामी 30 जून तक के लिए न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया गया है। सात दिन का...

Print Friendly, PDF & Email

सीबीएसई 12वीं का रिजल्ट 31 जुलाई तक आ जाएगा, लेकिन 12वीं के रिजल्ट में 10वीं के तीन विषयों के 30 प्रतिशत मार्क्स शामिल करने के फार्मूले पर अनेक शिक्षाविदों को एतराज। राजस्थान बोर्ड में तो 12वीं प्री बोर्ड की परीक्षाएं ही नहीं हुई। स्कूलों से सत्रांक मांगने पर भी असमंजस।

17 जून को केन्द्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में एक हलकनामा प्रस्तुत कर बताया है कि सीबीएसई की 12वीं परीक्षा का रिजल्ट 31 जुलाई तक आ जाएगा। इसके साथ ही सरकार ने रिजल्ट घोषित...

Print Friendly, PDF & Email

राजस्थान में कांग्रेस की असंतुष्ट गतिविधियों से जुड़ा है जयपुर की भाजपाई मेयर सौम्या गुर्जर की बर्खास्तगी का मामला। यदि पूर्व सीएम वसुंधरा राजे का खेल नहीं होता तो भाजपा की पार्षद शील धाबाई कार्यवाहक का पद नहीं संभालतीं। भाजपा के तीन विधायकों की भूमिका संदिग्ध। दिल्ली में सचिन पायलट के 12 बिंदुओं पर विचार। कांग्रेस हाईकमान गंभीर।

इसे राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की रणनीति ही कहा जाएगा कि जब भी कांग्रेस में असंतुष्ट गतिविधियां जोर पकड़ती हैं, तब भाजपा में भी असंतोष उजागर हो जाता है। विगत दिनों जब गहलोत...

Print Friendly, PDF & Email

राजस्थान में किरायेदारों को मकान मालिक बना रहा है हाउसिंग बोर्ड। पुराने 20 हजार में से 10 हजार से भी ज्यादा मकान बेचकर 1 हजार 500 करोड़ रुपए व व्यावसायिक संपत्तियों से 1 हजार 400 करोड़ रुपए कमाए तथा 200 करोड़ रुपए मूल्य वाली जमीन अतिक्रमणकारियों से मुक्त करवाई। 10 से 12 फिट ऊंचाई वाली एक लाख पेड़ पौधे लगेंगे। सीएम गहलोत और नगरीय विकास मंत्री धारीवाल भी मानते हैं कि बोर्ड के आयुक्त पवन अरोड़ा ने कीर्तिमान स्थापित किया है।

राजस्थान में किरायेदारों को मकान मालिक बना रहा है हाउसिंग बोर्ड। पुराने 20 हजार में से 10 हजार से भी ज्यादा मकान बेचकर 1 हजार 500 करोड़ रुपए व व्यावसायिक संपत्तियों से 1 हजार...

Print Friendly, PDF & Email